Invision Air eyes setting up operation bases at Chandigarh, Ludhiana

Chandigarh will have a state-of-the-art integrated international airport terminal  constructed with a project cost of Rs 450 crore. It would have the capacity to handle 1,600 passengers and the proposed area would be 40,000 square meters.

Buoyed by the response from the northern region, Mumbai-based chartered airlines Invision Air Services Pvt Ltd is looking at setting up operation bases at Chandigarh and Ludhiana in the next two years. Besides these two locations, it is also looking at bases in Bengaluru, Chennai and Kolkata.

Currently, the company operates from Mumbai, Delhi, Nashik and Ahmedabad and has a fleet of 14 aircraft, including own and leased ones. Speaking to Business Standard, Vinit Phatak, Managing director, Invision Air Services Pvt Ltd, said, “We have 10-15  clients in the Chandigarh and Punjab region. We are looking at infrastructure development at the airports in this region and are very keen to have operational bases in Chandigarh and Ludhiana. We need space to park our aircraft, lounge and office for marketing employees at the upcoming airport. If we get sufficient infrastructure, we will definitely set up operations at these locations in the next two years.”

By February 2015, Chandigarh would have state-of-the-art integrated international airport terminal building constructed with a project cost of Rs 450 crore. The terminal would have the capacity to handle 1,600 passengers (1,150 domestic and 450 international) and the proposed covered area would be 40,000 square meters. For executing the project, construction firm L & T construction has been entrusted by the Airports Authority of India. Similarly, the Punjab government is in process of acquiring land for expanding Ludhiana airport.

On being asked about the demand for charter planes from this region, Vinit added, “We are focusing on smaller towns where the big planes cannot land. We are receiving significant number of demands from corporates and high- profile celebrities for air connectivity. Since regular commercial aircraft cannot land and take off from smaller runways, operating there makes sense and also provides opportunity for charter service providers. Therefore, we are in the process of widening our network and services.”

He added, “‘In this region, we cater to around 10 to 15 clients at the moment and we expect this to increase after we do a formal launch in these areas via a roadshow planned in the first quarter of 2014. Further, in this region, our customers are mostly high net worth individuals (HNI’s) from manufacturing sector, trading, sugar sector and high-profile celebrities. Our primary aircraft is the Phenom 100 made by Embraer, which can seat four passengers. However our members and clients have access through our network to 15 aircraft, including jets and helicopters based out of India, which can carry from four  to 17 passengers.”

It is worth mentioning that Invision Air is India’s first operator with a large brand new light jets and is free from the schedules and hubs of commercial airlines as it gives one the luxury to charter own aircraft and fly to 200 direct destinations across the country without facing the  hustle-bustle at airports.

It also offers a wide range of options to suit all types of clients interested in private aviation — from those who fly frequently to those who wish to fly only a few hours (25 or less) in a year.

इनविजन बनाएगी संचालन केंद्र

उत्तरी क्षेत्र से मिली प्रतिक्रिया से उत्साहित मुंबई की चार्टर्ड एयरलाइंस इनविजन एयर सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड अगले दो वर्षों में चंडीगढ़ और लुधियाना में संचालन केंद्र स्थापित करने की योजना बना रही है। इन दो जगहों के अलावा एयरलाइन बेंगलूर चेन्नई और कोलकाता में संचालन केंद्र की संभावना तलाश रही है।

मौजूदा समय में कंपनी मुंबई, दिल्ली, नासिक और अहमदाबाद से परिचालन करती है और उसके बेड़े में 14 विमान हैं जिनमें उसके स्वयं के एवं लीज पर लिए विमान भी शामिल हैं। इनविजन एयर सर्विसेज के प्रबंध निदेशक विनीत पाठक ने बिजनेस स्टैंडर्ड को बताया, ‘चंडीगढ़ और पंजाब क्षेत्र से हमारे पास लगभग 10-15 ग्राहक हैं। हम इस क्षेत्र में बुनियादी ढांचा विकास यानी हवाई अड्डïों पर विचार कर रहे हैं और चंडीगढ़ तथा लुधियाना में संचालन केंद्र बनाए जाने के लिए बेहद इच्छुक हैं। हमें अपने विमानों को रखने, नए हवाई अड्डïे पर विपणन कर्मचारियों के लिए लाउंज और कार्यालय के लिए जगह की जरूरत है। यदि हम पर्याप्त बुनियादी ढांचा हासिल करने में सफल रहते हैं तो निश्चित तौर पर हम अगले दो वर्षों में इन दो जगहों पर परिचालन शुरू कर देंगे।’

यह बताना महत्त्वपूर्ण है कि फरवरी 2015 में चंडीगढ़ 450 करोड़ रुपये की लागत वाले अत्याधुनिक इंटिग्रेटेड इंटरनैशनल एयरपोर्ट टर्मिनल से लैस होगा। यह टर्मिनल 1600 यात्रियों (1150 घरेलू और 450 अंतरराष्टï्रीय) के प्रबंधन की क्षमता से युक्त होगा और इसमें प्रस्तावित कवर्ड एरिया 40,000 वर्ग मीटर होगा। परियोजना के निष्पादन के लिए भारतीय हवाई अड्डïा प्राधिकरण द्वारा निर्माण कंपनी एलऐंडटी कंस्ट्रक्शन को चुना गया है। इसी तरह पंजाब सरकार भी लुधियाना हवाई अड्डïे के विस्तार के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया में लगी हुई है।

इस क्षेत्र से चार्टर्डविमानों की मांग के बारे में पूछे ताने पर विनीत ने कहा, ‘हम उन छोटे शहरों पर ध्यान दे रहे हैं जहां बड़े विमान नहीं उतर सकते। हमें छोटे शहरों से कॉरपोरेट और हाई प्रोफाइल ग्राहकों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। चूंकि वाणिज्यिक विमान छोटे शहरों से नियमित तौर पर उड़ान नहीं भर सकते, इसलिए वहां परिचालन जरूरी है। इसलिए हम अपना नेटवर्क और सेवा में विस्तार की प्रक्रिया से गुजर रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘इस क्षेत्र में, हम फिलहाल लगभग 10-15 शहरों की जरूरतें पूरी करते हैं और 2014 की पहली तिमाही में प्रस्तावित रोडशो के साथ इन इलाकों में औपचारिक शुरुआत के बाद इस संख्या में वृद्घि का अनुमान है। इस क्षेत्र में हमारे ग्राहकों में निर्माण क्षेत्र, ट्रेडिंग, चीनी क्षेत्र से ज्यादातर एचएनआई (अमीर ग्राहक) और हाई प्रोफाइल सेलेब्रिटी शामिल हैं। हमारा प्रमुख विमान फेनम 100 है जिसे एम्ब्रेयर तैयार तैयार किया गया है। इसमें 4 यात्रियों के लिए सीटें हैं।’

इनविजन एयर बड़े आकार के नए लाइट जेट के साथ परिचालन करने वाली भारत की पहली विमानन कंपनी है और यह शिड्ïयूल से मुक्त है और वाणिज्यिक एयरलाइनों का हब है, क्योंकि यह आपको अपने स्वयं के विमान के साथ लक्जरी सुविधा प्रदान करती है और पूरे भारत में 200 जगहों के लिए उड़ानें संचालित करती है।